बाबा साहब की गिनाई गई उपलब्धियां.

0
111

वैशाली जिला संवाददाता कौशल किशोर सिंह की रिपोर्ट।

वैशाली। गोरौल प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत विभिन्न जगहों पर बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की 131 वीं जयंती श्रद्धा पूर्वक मनायी गयी।

     बताते चले कि स्वर्गीय रमती देवी रामसुंदर सिंह निकेतन मधुरापुर में सेवानिवृत्त शिक्षक शिवचंद्र सिंह एवं मंजिया दलित टोला में शंकर राम के नेतृत्व में जयंती धूमधाम से मनायी गयी। मौके पर उपस्थित लोगों ने उनके तैल्य चित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्पांजलि अर्पित करते हुए उनके कृतित्व पर प्रकाश डाला और उनकी उपलब्धियों को गिनाया।
वही भाजपा नेता सतीश श्रीवास्तव ने सोंन्धों स्थित अपने आवास पर संविधान निर्माता बाबा साहब अंबेडकर की जयंती पर अपनी श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुये कहा कि संविधान निर्माता भारत रत्न डॉक्टर भीमराव अंबेडकर एक सच्चे समाज सुधारक व दलितों के मसीहा थे। मौके पर पधारे बभनटोली गांव निवासी समाजसेवी चंद्रशेखर पटेल ने कहा कि बाबा साहब ने अपने देश से जातीय भेदभाव की बुराई को मिटाने में सबसे अहम योगदान दिया था। उन्होंने केवल शोषित समाज के लिए काम नहीं किया बल्कि समाज के तमाम वर्गों के लिए उन्होंने संघर्ष किया।‏ शिक्षाविद शिक्षक वशिष्ठ प्रसाद सिंह ने कहा कि विश्व का सबसे बड़ा संविधान हमारे देश भारत का ही है। देश को एकता के सूत्र में बांधने का काम बाबा साहब भीमराव अंबेडकर ने ही किया था। विभिन्न जगहों पर आयोजित कार्यक्रमों को संबोधित करने वालों में अनिल कुमार, देशबंधु कुमार, रत्नेश कुमार, शंकर राम, राकेश राम, सकलदेव राम, मोहन राम, राजू कुमार सहित अन्य शामिल है।