20 सितम्बर से शुरू होगा  सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम: डॉ रविंद्र

0
81

जिला संवाददाता कौशल किशोर सिंह के साथ अमीत कुमार की रिपोर्ट

– 2 वर्ष से ऊपर सभी को खिलाई जाएगी दवा
– 14 दिनों का होगा चक्र

सीतामढ़ी। 12 अगस्त
फाईलेरिया मुक्ति अभियान अन्तर्गत जिला भीबीडी नियंत्रण कार्यालय के तत्वाधान मे सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम पूर्व प्रशिक्षकों का प्रशिक्षण  समाहरणालाय के परिचर्चा भवन में आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ उपविकास आयुक्त, तरनजोत सिंह ,सिविल सर्जन डा सुरेश चन्द्र लाल ,विश्व स्वास्थ्य संगठन के राज्य समन्वयक, डा राजेश पाण्डे, जिला भी बी डी नियंत्रण पदाधिकारी, डा रवीन्द्र कुमार यादव, डीआईओ डॉ ए के झा ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया ।
डा यादव ने विस्तार से कार्यक्रम की रूप रेखा के बारे मे प्रकाश डाला और बताया कि 20 सितंबर से सभी घरों मे जाकर आशा कार्यकर्ता 2 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को  ( गर्भवती माता और गंभीर बीमारी से ग्रसित को छोडकर ) डी ई सी और अल्बेन्डाजोल की खुराक खिलायेगी ताकि फाईलेरिया से बचा जा सके ।
डा राजेश पाण्डे ने विस्तार से हर पहलुओं के बारे मे बताया और बताया कि आप स्व स्थ दीखते हैं ,फिर भी आपके रक्त मे माईक्रोफाईलेरिया हो सकते हैं जो 8-10  बाद फाईलेरिया मे बदल सकते हैं। अतः सभी को दवा की एक खुराक साल मे एक बार अवश्य खानी चाहिए।
डी डी सी ने कार्यक्रम को अतिमहत्वपूर्ण बताते हुए इसमे समेकित सहभागिता द्वारा जिला के सभी योग्य आबादी को दवा की खुराक निशित रूप से खिलाने और इसके लिए प्रखण्ड स्तर पर सही ढंग से आशा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करने पर बल दिया ।सिविल सर्जन ने अपने सम्बोधन में कार्यक्रम को गंभीरता से लेने , निदेशों केअनुपालन और समयबद्ध   माईक्रोप्लानिंग ,सतत अनुश्रवण करते हुए सर्वजन दवा सेवन को सफल बनाने का आह्वान किया।
डा यादव ने बताया कि रात्रि रक्त पट संग्रह कर लिए गए हैं और सूक्षम कार्ययोजना तैयार की जा रही है।सभी प्रखण्डों को दवा आपूर्ति की जा चुकी है।
डॉ पाण्डे द्वारा हाथीपाँव की जटिलता ,एवं विरूपण से बचाव हेतु भी प्रशिक्षण दिया गया जिसमे डुमरा प्रखण्ड के 20 हाथीपाँव से ग्रसित लोग भी भाग लिए।इन मरीजों के बीच एम एम डी पी किट भी वितरित किया।डा यादव ने बताया कि सभी प्रखण्डो मे हाथीपाँव से पीड़ीतों के बीच किट का वितरण किया जायेगा।जिसमे सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी ,प्रखण्ड स्वास्थ्य प्रबंधक ,सामुदायिक उत्प्रेरक,भिबीडीसी ने भाग लिया।