अब खून की कमी से नहीं जाएगी एक भी जान

0
85

जिला संवाददाता के साथ अमीत कुमार की रिपोर्ट.

– सदर अस्पताल, शिवहर में होगा अब अपना खुद का ब्लड बैंक, काम तेज गति से जारी

शिवहर। 2 अगस्त
जिला मुख्यालय स्थित सरोजा सीताराम सदर अस्पताल में अब अपना खुद का ब्लड बैंक होगा। ब्लड बैंक स्थापना के लिए काम तेज गति से जारी है। सिविल सर्जन डॉ राजदेव प्रसाद सिंह ने कहा शिवहर में वर्षों से ब्लड बैंक की मांग हो रही थी। अब लोगों का सपना पूरा होगा। यह जिलेवासियों के लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने बताया यहां न सिर्फ रक्तदान कर सकेंगे बल्कि दान से मिले रक्त को स्टोरेज भी किया जाएगा, जिससे इमरजेंसी में किसी भी मरीज को ब्लड के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। जिलेवासियों की पुरानी मांग पूरी होने से लोगों में खुशी की लहर है।

दूसरे जिले की आत्मनिर्भरता हो जाएगी खत्म

सिविल सर्जन डॉ सिंह ने कहा ब्लड बैंक बनने के साथ ही दूसरे जिले की अत्मनिर्भरता खत्म हो जाएगी। जरूरतमंदों को पर्याप्त मात्रा में ब्लड मिलने लगेगा। ब्लड के लिए उन्हें दूसरे जिले व शहर जाकर नहीं भटकना पड़ेगा। शिवहर में ही मरीजों को पर्याप्त मात्रा में हर ग्रुप का ब्लड आसानी से मिल सकेगा।

कई प्रयासों के बाद सपना हुआ साकार

बताते चलें कि, जिले की स्थापना के ढाई दशक बाद भी शिवहर में ब्लड बैंक की स्थापना नहीं हो सकी है। पांच-छह साल पूर्व मातृ-शिशु अस्पताल में रक्त संग्रहण केंद्र की स्थापना की पहल की गई थी। लेकिन रक्त संग्रहण केंद्र की स्थापना नहीं हो सकी। इसके बाद सामाजिक संगठनों ने इसके लिए मुहिम चलाई। आंदोलन किये। शहर की सड़क, प्रमुख चौक-चौराहा बाजार और सार्वजनिक वाहनों पर पोस्टर चस्पाकर शिवहर को चाहिए ब्लड बैंक अभियान चलाया गया था। मामला विधान सभा में भी उठा। इन सारे प्रयासों के बाद आखिरकार शिवहर में ब्लड बैंक की स्थापना हो रही है। 

बदली सदर अस्पताल की तस्वीर

शिवहर सदर अस्पताल की तस्वीर बदल रही है। सदर अस्पताल में वेंटिलेटर और आक्सीजन बेड की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। इस बीच अस्पताल में लिफ्ट का भी उद्घाटन हो गया।
ऑक्सीजन प्लांट भी शीघ्र तैयार हो जाएगा। इन सबके बीच सदर अस्पताल में सीटी स्कैन की सुविधा जल्द शुरू हो जाएगी। सीएस डॉ. राजदेव प्रसाद सिंह ने कहा सदर अस्पताल को स्वास्थ्य सेवाओं के दृष्टिकोण से सुसज्जित करने का लक्ष्य है।