रक्सौल बना बिहार का पहला शत- प्रतिशत टीकाकरण कराने वाला नगरपरिषद

0
89

जिला संवाददाता कौशल किशोर सिंह के साथ अमीत कुमार की रिपोर्ट

जनप्रतिनिधियों के सहयोग एवं स्वास्थ्य कर्मियों की मेहनत व तत्परता लाई रंग
– जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक के कुशल नेतृत्व की चर्चा

मोतिहारी, 08 जुलाई।
स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय के कुशल नेतृत्व व मार्गदर्शन में राज्य में टीकाकरण का काम जोरशोर से हो रहा है। उनके कुशल नेतृत्व व मार्गदर्शन के फलस्वरूप ही सूबे का पूर्वी चंपारण जिला लगातार टीकाकरण को लेकर कीर्तिमान स्थापित कर रहा है। इस बार टीकाकरण को लेकर पूर्वी चंपारण जिला का रक्सौल नगरपरिषद सुर्ख़ियों में है। डीपीआरओ, मोतीहारी ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर यह जानकारी दी है। इसके अनुसार रक्सौल नगरपरिषद बिहार का पहला शत- प्रतिशत टीकाकरण कराने वाला नगरपरिषद बन गया है। रक्सौल नगरपरिषद ने 18 वर्ष से ऊपर के लोगों का शत -प्रतिशत कोविड 19 टीकाकरण कराकर एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है। इसके पूर्व जिला का बनकटवा प्रखंड 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का शत प्रतिशत कोविड-19 टीकाकरण करने वाला बिहार व देश का पहला प्रखंड बनने का गौरव हासिल कर चुका
है। वहीं जिले के  पिपराकोठी प्रखंड ने भी 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के शत प्रतिशत कोविड-19 टीकाकरण कर राज्य का दूसरा ऐसा प्रखंड बन मिसाल कायम की है। जिले को मिल रही इन उपलब्धियों का श्रेय जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक के नेतृत्व को जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्री के दिशा निर्देश पर जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक के नेतृत्व में जिला प्रशासन के कुशल प्रबंधन, स्थानीय निवासियों, जनप्रतिनिधियों के सहयोग एवं स्वास्थ्य कर्मियों की मेहनत और तत्परता रंग लाई है। जिलाधिकारी ने 18 वर्ष के ऊपर के लोगों के शत प्रतिशत टीकाकरण के लिए युद्ध स्तर पर तैयारी की जिसका नतीजा पूरे देश के सामने आया है।
अन्य प्रखंडों को भी बनकटवा प्रखंड की तरह ही रणनीति बनाने की सलाह –
जिलाधिकारी ने इस उपलब्धि के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम, जनप्रतिनिधियों और निवासियों को धन्यवाद दिया। उन्होंने अन्य प्रखंडों को भी बनकटवा प्रखंड की तरह ही रणनीति बनाने की बात कही। साथ ही उन्होंने आम जनों से स्वेच्छा पूर्वक टीकाकरण केंद्र पहुंच कर टीका लेने का आह्वान किया। उन्होंने बताया जिले में स्वास्थ्य विभाग की टीम, आशा कार्यकर्ता/सेविका, जीविका दीदी आदि सभी लोग क्षेत्र में लोगों को बीच जाकर उन्हें टीकाकरण के लिए जागरूक और उनके मन में बैठे टीका के प्रति भ्रम को दूर करती है। जिसके परिणाम स्वरूप स्वास्थ्य विभाग, बिहार द्वारा 6 महीने में 6 करोड़ टीकाकरण के लक्ष्य को दो महीने में पूरा करने की तरफ तेजी से आगे बढ़ रहा है।

– स्वास्थ्य मंत्री दे चुके हैं बधाई:
स्वास्थ्य विभाग की मॉनिटरिंग किए जाने व जागरूकता अभियान के साथ कोविड टीकाकरण किए जाने पर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डे बिहार सरकार द्वारा जिलाधिकारी एवं जिलेवासियों को धन्यवाद दिया गया है। अभी वर्तमान में स्वास्थ्य मंत्रालय भारत सरकार द्वारा पूरे देश में बनकटवा प्रखण्ड पूर्वी चंपारण को प्रचारित किया जा रहा है।
बिहार भवन, दिल्ली द्वारा प्रकाशित न्यूज लेटर में जिलाधिकारी, के ऑक्सीजन प्रबंधन की चर्चा –
पूर्वी चंपारण के जिला सूचना पदाधिकारी द्वारा जानकारी दी गयी है कि हाल ही में बिहार भवन, दिल्ली द्वारा प्रकाशित न्यूज लेटर के जुलाई अंक में जिलाधिकारी, पूर्वी चंपारण शीर्षत कपिल अशोक के द्वारा किए गए ऑक्सीजन प्रबंधन को प्रकाशित किया गया है। न्यूजलेटर के मुख्यपृष्ठ एवं पहले पृष्ठ पर विस्तार से बताया गया है कि कैसे जिलाधिकारी के कुशल नेतृत्व और उनकी पूरी टीम की तत्परता के कारण 12 घंटे के अंदर दो जिलों को ऑक्सीजन सप्लाई करने वाले ऑक्सीजन प्लांट में आई तकनीकी खराबी को दूर कर पुनः शुरू कर दिया गया। पूर्वी चंपारण के हरसिद्धि में स्थित गायत्री मेडिकल एवं इंडस्ट्रियल गैस प्लांट पूर्वी एवं पश्चिमी चंपारण जिले को ऑक्सीजन सप्लाई करने वाला एकमात्र गैस प्लांट है। कोरोना की दूसरी लहर में  ऑक्सीजन प्लांट के अचानक तकनीकी खराबी के कारण बंद हो जाने से दोनों जिलों में 800 मरीजों की जान खतरे में आ गई थी।  जिलाधिकारी की तत्परता से महज़ 12 घंटे के अंदर तकनीकी खराबी को दूर कर प्लांट को चालू किया गया था।