उन्हे समाज का सजग प्रहरी के रुप में याद किया जाता रहेगा।

0
486

जिला संवाददाता कौशल किशोर सिंह की रिपोर्ट.

व्यक्ति अपने जीवन जीने के साथ अंश मात्र भी समाज के लिए जीता है. तो समाज उसे याद करने के कायल हो जाता है. विद्वान होना अलग बात है और बुद्धिमान होना अलग. एक बुद्धिमान व्यक्ति को सामाजिक संरचना का जितना अधिक तजुर्बा होता है, उतना विद्वान व्यक्ति को नही. इस तरह समाज के लिए उनके किये गये कार्य अविस्मरणीय है और उन्हे समाज के सजग प्रहरी के रुप में याद किया जाता रहेगा.
उक्त बातें आज गोरौल प्रखंड क्षेत्र के इसमाईलपुर पंचायत स्थित इसमाईलपुर गांव के वार्ड संख्या 02 में स्वर्गीय सरपंच रंजीत कुमार सिंह के श्राद्धकर्म के मौके पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए प्रदेश संगठण प्रभारी सह जदयू नेता पंकज पटेल ने कही.वही समाजसेवी अनिल कुमार सिंह ने कहा कि स्व. श्री सिंह को समाज के सजग प्रहरी के रुप में याद किया जाता रहेगा. उनके व्यक्तित्व और कृतित्व पर प्रकाश डालने वालों में मुखिया आनंद कुमार, सुनिल कुमार, शिवचंद्र प्रसाद सिंह, मुखिया प्रतिनिधि अशोक कुमार सिंह, मनोज कुमार सिंह, प्रमोद कुमार सिंह, राहुल कुमार, संजीव कुमार, संतोष कुमार, सहित अन्य लोग सामील थें.