नाला के टुटे स्लैब से किसी को सरोकार नहीं

0
109

रमेश प्रसाद सिंह की रिपोर्ट

वैशाली जिले अन्तर्गत महुआ मजफ्फरपुर मुख्य मार्ग के प्रखंड मुख्यालय  के समीप मुख्य मार्ग के दोनो किनारे नाला का निर्माण तत्कालीन पथ निर्माण मंत्री तेजस्वी यादव की निधि से कराया गया था| नाला का निर्माण में उपयोग किया गया सामाग्री की गुणवत्ता का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता हैं| प्रखंड मुख्यालय के समीप पंकज स्वीट्स, ब्रिलियन्ट पब्लिक स्कूल चेहराकलां व पेट्रोल पंप के समीप नाला का स्लैब इस कदर टुट गया है कि किसी भी समय अप्रिय घटना घटने से इंकार नहीं किया जा सकता हैं| कभी परिस्थिति ऐसी भी आयी है कि  अंजान यात्री की पैर टुट गया है| जबकि प्रखंड मुख्यालय चौराहे के साथ, ब्रिलियन्ट पब्लिक स्कूल के होने के कारण जनता का आवागमन हमेशा लगा रहता है| आमजनों की चिंता रखने वाले लोगों ने टुटे हुए स्लैब के स्थान पर डंडे में लाल झंडी लटा दिया करता था| पर धीरे धीरे लोगों ने उक्त परम्परा से दुर होने के के कारण नाला स्लैब टुटा हुआ है| जबकि कि स्थानीय प्रशासन की गाड़ियां अकसर पेट्रोल पंप पर डीजल व आमजनता अपने बाइक में पेट्रोल लेने के लिए तत्पर रहते हैं| पर किसी भी प्रशासनिक पदाधिकारी, समाजसेवी, राजनीति दलों के नेताओं की नजर आवश्यक पड़ती है इसकी कोई चिंता नहीं है कि अप्रिय घटना घटने से पूर्व नाला के टुटे स्लैब के भाग को मरम्मती कार्य की मांग को उठाई जाय| पर कोई घटना घट जाय तो प्रशासनिक पदाधिकारी व समाजसेवी व राजनीति दलों के नेता आवश्यक पहल शुरू कर दें| इसके पहले किसी की सुधी की आवश्यकता नहीं है|