नशेड़ी पुत्र खातीर सैप के जवान ने की आत्महत्या

0
123

रमेश प्रसाद सिंह की रिपोर्ट

वैशाली जिले अन्तर्गत बेलसर सहायक थाना क्षेत्र के पचपैका गांव निवासी सैफ के जवान ने अपनी आत्महत्या कर जीवन लीला समाप्त कर ली है । जबकि स्थानीय लोगो ने बताया कि पहले सैफ जवान की पत्नी ने आग लगा कर अपनी आत्महत्या कर ली थी । घटना का कारण बताया गया कि सैफ जवान के एकलौता पुत्र नशा बन गया था। सैप जवान जीता भी तो आखिर किसके लिए एकलौते बेटे ने पिता को सहारा देने के बजाय उल्टा कर्ज में ही डुबा गया था । एकलौता पुत्र से तंग आकर जब उसे जीने की सारी वजहें खत्म होती दिख रही थी। तो उसने बैरक में जाकर खुद पर ही गोली मारकर अपनी जीवन अन्तिम लीला सदा के लिए समाप्त कर लिया । सासाराम में सैप जवान के सुसाइड का कारण मानसिक तनाव बताया जा रहा है, जहां नौहट्टा थाना में एक सैप जवान ने खुद को गोली मार कर खुदकुशी कर ली।घटना नौहट्टा थाना क्षेत्र की है, जहां देर रात बैरक में जवान ने अपनी गर्दन पर गोली मारी वह मानसिक तनाव बताया जा रहा है। सैफ जवान अपने एकलौते पुत्र से काफी तनाव में रहता था। बेटा के नशेड़ी बनने और पत्नी के आत्महत्या कर लेने से वह पूरी तरह टूट चुका था। दस दिन की लंबी छुट्टी लेकर वह अपने घर बेलसर सहायक थाना क्षेत्र के पचपैका गांव आया था । और बीते दिन बैरक में लौटा था।घटना की गुत्थी सुलझती नहीं दिख रही थी। मृतक शिवकुमार ओझा पचपैका गांव का रहने वाला बताया गया है।मृतक जवान तिलौथू में कार्यरत था।वह दस दिनों की छुट्टी लेकर अपने गांव में आया था। लेकिन वह सातवें दिन ही ड्यूटी पर तैनात हो गया था। मंगलवार की सुबह कैंप में पहुंचा। संतरी से हाल-चाल पूछा इसके बाद वह बैरक में घुस गया। अंदर जाते ही गोली की आवाज आई, जहां उसके अपने बक्से से बेडिंग और एसएलआर निकाल कर गर्दन पर गोली मार ली। सिर फट जाने से जवान की मौके पर ही मौत हो गई।स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि शिवकुमार ओझा मानसिक तनाव में रहता था। इससे पहले उसकी पत्नी ने भी तीन महीने पहले आग लगाकर आत्महत्या कर ली थी। सैप जवान का बेटा नशेड़ी बन गया था, जिसके कारण वह काफी तनाव में रहने लगा था। जवान की एक बेटी भी है, जिसकी शादी हो चुकी है।मृतक जवान के गांव पचपैका में सन्नाटा पसरा हुआ है।सुसाइड की खबर से सैप जवान के गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। पड़ोसियों को विश्वास नहीं हो रहा है कि शिवकुमार ऐसा भी कदम उठा सकता है। रविवार की दोपहर अपने घर से जाने के बाद उसने कैसे गोली मार ली। स्थानीय लोगों ने बताया कि 32 वर्षीय नशेड़ी बेटे ने लाखों का कर्ज ले रखा है।जिसके कारण वह पिछले दिनों से काफी तनाव में चल रहा था।मृतक शिव कुमार ओझा छठ मनाने के लिए घर आए थे। आस-पास के लोगों ने बताया कि बेटे द्वारा कर्ज लेने के कारण वह परेशान थे। इसी कलह से उनकी पत्नी पूनम देवी ने अगस्त में आग लगाकर जान दे दी थी। इस बार जब वह घर आए थे तो बेटा घर पर नहीं था। बेटा प्रकाश रंजन उर्फ सन्नी को नशे की बुरी लत है। घर आकर वह अपनी पत्नी और बच्चों के साथ मारपीट करता है। शिवकुमार ने एकलौते बेटे के लिए घर के बगल में ही चौक पर एक दुकान खोल दी थी।जिसे उसने शराब पीने के चक्कर में बेच दिया।