छेड़खानी का विरोध करने पर मनचलों ने मिट्टी तेल छिड़ककर जिंदा जला दिया था

0
181

समस्तीपुर से मोहम्मद सेराज की रिपोर्ट

गुलनाज के हत्यारे को कड़ी सजा मिले- बंदना सिंह

# छेड़खानी का विरोध करने पर मनचलों ने मिट्टी तेल छिड़ककर जिंदा जला दिया था गुलनाज को

# पीएमसीएच में ईलाजरत गुलनाज घटना के 10 दिन बाद मर गई

# आज तक एक भी आरोपी गिरफ्तार नहीं-ऐपवा

समस्तीपुर 16 नवंबर ’20

अपने साथ छेड़छाड़ का विरोध करने पर आरोपियों द्वारा किरासन तेल छिड़ककर जलाई गई वैशाली जिले के देसरी थाना के गुलनाज खातुन शनिवार को पीएमसीएच में अंतिम सांस ली. वे पीछले 10 दिनों से ज़िन्दगी और मौत से लड़ रही थी.

घटना पर आक्रोश व्यक्त करते हुए महिला संगठन ऐपवा के जिलाध्यक्ष सह माले नेत्री बंदना सिंह आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार कर कड़ी सजा दिलाने की मांग की है. उन्होंने कहा है कि बिहार में दुष्कर्म, दहेज हत्या, महिला उत्पीड़न के मामले में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. सुशासन की सरकार के प्रशासन पीड़िता को न्याय दिलाने के बजाय लेनदेन कर आरोपियों को बचाने के लिए खड़ी रहती है. सरकार के ईशारे पर प्रशासन जाति और धर्म देखकर कारबाई करती है. ऐसी ही गलत रवैया के कारण अपराधी सरेआम घटना को अंजाम देकर बच निकलते हैं. हमें ऐसे घटना को गंभीरता से लेना होगा. ऐसी घटना सरकार, प्रशासन एवं समाज के नाम पर कलंक है. उन्होंने कहा कि प्रशासन यदि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार नहीं करती है तो ऐपवा आंदोलन करेगी.