हाथरस रेप पीड़िता को न्याय, बेटियों की सुरक्षा की गारंटी को लेकर धरना

0
201

मोहम्मद सिराज कि रिपोर्ट

समस्तीपुर 30 सितंबर ’20
हाथरस रेप पीड़िता मृतक मनीषा को न्याय देने, बेटियों की सुरक्षा की गारंटी करने, बढ़ते रेप- हत्या पर रोक लगाने की मांग को लेकर बुधवार को शहर के विवेक- विहार मुहल्ला स्थित अपने आवास पर ऐपवा जिलाध्यक्ष सह भाकपा माले नेत्री बंदना सिंह ने सांकेतिक धरना देकर विरोध दर्ज कराया. इस दौरान महिला अधिकार कार्यकर्ता ने “हाथरस रेप पीड़िता मनीषा को न्याय दो”, “बेटियों की सुरक्षा की गारंटी करो” नारे लिखे कार्डबोर्ड लेकर बेटी बचाने की झूठा नारा देने वाली योगी- मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया.
धरना के दौरान उन्होंने कहा कि यूपी से लेकर पूरे देश में लगातार बेटियों की रेप-हत्या हो रही है. आरोपियों पर कारबाई के बजाय पीड़िता एवं परिजनों को परेशान कर ब्लातकारियों को संरक्षण दिया जाता है. उदाहरण स्वरूप अररिया में रेप पीड़िता एवं न्याय की मांग को लेकर आवाज उठाने वाले को ही जेल में बंद कर दिया गया. यही कारण है कि ब्लातकारियों का मनोबल बढता जा रहा है.
श्रीमती सिंह ने विशेष न्यायालय का गठन कर हाथरस रेप पीड़िता को न्याय, ब्लातकारियों को कड़ी सजा, ईलाज में लापरवाही बरतने वाले चिकित्सकों एवं मामले को रफादफा करने वाले पुलिस पर कारबाई की मांग करते हुए कहा है कि जिस तरह से परिजनों को बंदी बनाकर मृतिका का अंतिम संस्कार पुलिस द्वारा किया गया, इससे पता चलता है कि संविधान के चारों खंभे सहित तमाम आयोगों का अंतिम संस्कार कर दिया गया. उन्होंने रूंधे गले से कहा कि यदि यही स्थिति रही तो जन्म लेते ही बेटियों को मार देंगी माताएं. अब समय आ गया है. समाज को आगे आकर बेटियों को बचाने की जिम्मेवारी लेनी चाहिए. इस प्रकार के धरना कार्यक्रम शहर के अनेकानेक घरों में करने की जानकारी मिली है.