श्रमदान कर पुल की मरम्मत की

0
97

            पटेढ़ी बेलसर प्रखंड के मनोरा गांव के लोग गुरुवार को एक मिसाल कायम किया है ग्रामीणों ने झाझा नदी पर बीबीपुर से मनोरा जाने वाली मार्ग पर बने पुल को अपने स्तर से चंदा जुटाकर और श्रमदान कर मरम्मत कर चलने लायक बनाया है दरअसल झाझा नदी पर बहुत पुराना पुल बना हुआ है यह पुल मनोरा एवं बीरपुर मुख्य सड़क को जोड़ती है लेकिन इस बार झाझा नदी में बाढ़ आने के कारण पुल का एक हिस्सा पूरी तरह ढक गया जिसके कारण मनोरा गांव के एक हजार से ऊपर की आबादी को जाने में काफी दिक्कत हो रही थी ग्रामीण महज 800 मीटर की दूरी 4 किलोमीटर ज्यादा तय कर अपने गत्तव्य तक पहुंचते थे इस दौरान कई लोग पूल में गिरकर चोटिल हो जाते थे फिर ग्रामीणों ने तय किया कि हम सभी चंदा इकट्ठा कर तथा श्रमदान कर पुल की मरम्मत करेंगे ग्रामीण के हौसले बुलंद थे और उन लोगों ने चंदा इकट्ठा कर पुल की मरम्मत करवाया है गुरुवार से सभी ग्रामीण इसी पुल से आ जा रहे हैं इस कार में ग्रामीण दिलीप पासवान विनोद सिंह प्रेम कुमार सोनू कुमार साधु शरण पंडित सुधीर कुमार विकास कुमार आदि ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया