सदर अस्पताल में शुरू हुई टेलीमेडिसिन सेवा, जिलाधिकारी ने किया उद्घाटन

0
172

जिला संवाददाता की रिपोर्ट.

– होम आइसोलेसन के मरीजों से पूछा हाल चाल
– निर्माणाधीन मातृत्व एवं शिशु अस्पताल का किया उद्घाटन
सीतामढ़ी। 27 जुलाई
सदर अस्पताल सीतामढी में ” होम आइसोलेसन परामर्श केन्द्र सह टेलीमेडिसीन केन्द्र “में जिलाधिकारी अभिलाषा शर्मा उद्घाटन के बाद सोमवार से कार्य प्रारम्भ हो गया ।
जिला पदाधिकारी ने स्वयं होम आइसोलेसन में रह रहे दो कोविड संक्रमित मरीजों से बात कर उनका हालचाल पूछा और स्वास्थ्य संबंधी जानकारी ली ।
दोनों मरीजों ने स्वास्थ्य विभाग एवं प्रशासन द्वारा प्रदत्त सेवाओं को संतोषजनक बताया ।जिला पदाधिकारी ने उनलोगों को शीघ्र स्वस्थ होने की शुभकामनायें दीं।
कोरोना उपचाराधीन ने कहा प्लाज़्मा डोनेट करना होगा सौभाग्य
जिला पदाधिकारी द्वारा यह पूछे जाने पर कि स्वस्थ होने के उपरांत क्या वे प्लाज्मा डोनर बनना चाहेंगे, तो जवाब मिला- यह उनका सौभाग्य होगा ।इस पर सभी उपस्थित लोगों ने करतल ध्वनि से उनका अभिवादन किया ।विदित हो कि ये परामर्श विडियो काॅलिंग के द्वारा किया गया जिसे सभी लोगों ने देखा और सुना ।
जिला पदाधिकारी ने होम आइसोलेसन में रह रहे मरीजों को दिये जाने वाले मेडिसिन किट का भी मुआयना किया और सभी तरह की दवाओ ,ओ आर एस, डेटोल साबून, मास्क तथा दवाओं के सेवन की विधि के लिए दिये गये निदेशपत्र से प्रभावित हुईं और स्वास्थ्य विभाग की प्रशंसा की ।
मंगलवार से सभी पीएचसी पर होंगे टेस्ट
जिला पदाधिकारी ने 28 जुलाई से सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर रैपिड एन्टीजन जाँच प्रारम्भ करने के निर्देश दिए और प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियोंको रैपिड एन्टीजन जाँच किट भी उपलब्ध कराया तथा सदर अस्पताल सीतामढी में चल रहे जाँच का भी पर्यवेक्षण किया ।
इसके बाद जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में
स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारियों, चिकित्सकों, स्वास्थ्य कर्मीगण व प्रशासनिक पदाधिकारियों की एक समीक्षात्मक बैठक भी आयोजित किया गया जिसमें डा रवीन्द्र कुमार यादव,जिला भी बी डी नियंत्रण पदाधिकारी सह जिला नोडल पदाधिकारी कोविड द्वारा श्रव्य-दृश्य माध्यम से जिला में कोविड संक्रमण की स्थिति, उनकी जाँच, ईलाज तथा प्रबंधन के बारे मे जानकारी दी ।उनके द्वारा बताया गया कि होम आइसोलेसन परामर्श केन्द्र से घरों में रह रहे मरीजों की स्थिति तथा प्रदत्त सुविधाओं के आकलन में मदद मिलेगी और किसी भी आकस्मिकता के ससमय आकलन और निराकरण में मददगार साबित होगी ।जिला पदाधिकारी महोदया द्वारा सिविल सर्जन, अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी और सभी चिकित्सकोंतथा पदाधिकारियों से मिलकर इस जंग को जीतने का आह्वान किया ।
निर्माणाधीन एमसीएच का भी किया मुआयना
जिला पदाधिकारीअभिलाषा शर्मा ने टीम के साथ सदर अस्पताल सीतामढी में निर्माणाधीन 100 शय्या के मातृ-शिशु विभाग भवन का भी मुआयना किया और संवेदक को 2 माह के अन्दर कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए ।
उक्त अवसर पर सिविल सर्जन,डा राकेश रंजन सहाय वर्मा एवं अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी, डा सुरेन्द्र कुमार चौधरी,जिला भी बी डी नियंत्रण पदाधिकारी ,डा रवीन्द्र कुमार यादव , उपाधीक्षक, डा शकील अंजुम , डा सुधा झा, डा हिमांशु शेखर, डा परवेज अली, डा बासित ,डा सुजीत प्रकाश ,डा सुनील कुमार सिन्हा व अन्य चिकित्सक सहित अस्पताल प्रबंधक, शंभुशरण सिंह, केयर इण्डिया के मानस कुमार, बिहार प्रशासनिक सेवा के विकास कुमार, रंजना भारती, श्रृति कुमारी तथा काॅनसेलर ज्योति कुमारी, मनीषा कुमारी इत्यादि उपस्थित थे ।