पातेपुर थाना की पुलिस ने एक तीन साल के फरार आरोपी बताकर गिरफ्तार कर जेल भेजा उसे 24 घंटे में कोर्ट से न्याय मिला.

0
140

पातेपुर से रंजीत कुमार की रिपोर्ट

पातेपुर थाना की पुलिस ने एक तीन साल के फरार आरोपी बताकर गिरफ्तार कर जेल भेजा उसे 24 घंटे में कोर्ट से न्याय मिला.

प्राप्त जानकारी के अनुसार पातेपुर पुलिस ने मंडाई डीह निवासी धीरेंद्र सिंह को उसके घर से गिरफ्तार कर शनिवार को जेल भेजा तभी से गांव के लोगों में मायूसी छा गई थी किन्तु रविवार को जेल भेजे जाने के बाद सोमवार को हाजीपुर कोर्ट से जमानत मिलने के बाद यह ” सत्य की हमेशा विजय होती है,सत्य पराजित कभी पराजित नही हो सकता.

बताते चले कि शराब माफिया के पातेपुर तीसी औता और जंदाहा के रूप में आरोपित किये गये धीरेंद्र सिंह को दो दिन पूर्व पातेपुर पुलिस धीरेंद्र सिंह के घर पर कोई अन्य वारंटी के होने की सूचना पर पहुँच घर की तलाशी लेने के बाद घर मालिक धीरेंद्र सिंह को ही उठाकर ले गया और और जेल भेज दिया जबकि वह कोई वारंटी नही था बल्कि सभी केस जिसमें पुलिस ने उसको नाम डाला था उसमें वे बेल करा चुके थे.

धीरेंद्र सिंह और पुलिस का दोस्ती और दुश्मनी का खेल चलता आ रहा है.

सबसे पहले मंडाई डीह में एक घर के पास से दो बोतल शराब के साथ गिरफ्तार करने के मामले में दो को गिरफ्तार कर जेल भेजा था.उसी मामले में गांव में उत्पात विभाग की पुलिस ने गांव के एक घर से 8 लाख 3 हजार धीरेंद्र सिंह के घर के अलमारी ने निकाल लिया था जिसके विरोध में ग्रामीणों ने उत्पात विभाग के खिलाफ रोड जाम किया गया था.जाम तोड़वाने आयी पातेपुर पुलिस से 8 लाख 3 हजार रुपये की रिकभरी की मांग की गई पुलिस द्वारा पूछे जाने पर उत्पात अधीक्षक ने पहले तो बताया कि हमने एक मकई की खेत से बरामद की किन्तु विरोध पर उन्होंने स्वीकार किया कि हमने धीरेंद्र सिंह के घर सर 5लाख 78 हजार रुपये ही लिया है वही धीरेंद्र सिंह ने 8 लाख का तीन हजार का मामला घर से ले जाने का मामला दर्ज कराया था जिसे हाई कोर्ट पटना ने उत्पात विभाग को 17 .7.2018 को उत्पात विभाग द्वारा उसे 5 लाख 78 हजार राशि उपलब्ध कराई गई.पुनः इस रिभेंज मे उत्पात विभाग द्वारा पातेपुर समेत कई थाना की पुलिस को केस में नाम डालने पर दवाब पर पातेपुर थानाध्यक्ष एवम अन्य ने उनके घर पर धावा बोला किन्तु धीरेंद्र सिंह की पत्नी ने सिविल ड्रेस में पहुँचे पुलिस को घर मे घर मे घुसने का विरोध किया तो उनके साथ अभद्र व्यवहार का वीडियो वायरल सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया .पातेपुर पुलिस ने जहाँ धीरेंद्र सिंह और उनकी पत्नी रूपा देवी पर प्राथमिकी दर्ज करा चुके है वही धीरेंद्र सिंह की पत्नी रूपा देवी ने भी तत्कालीन थानाध्यक्ष कृष्ण देव खतैत समेत अन्य पर सादी ड्रेस में अपने को पुलिस बताने और मेरे साथ दुर्व्यवहार करने का मामला दर्ज कराई थी .अब 19 जुलाई को पातेपुर थानाध्यक्ष राम शंकर कुमार आधी रात्रि में एक दूसरे वारंटी को गिरफ्तार करने आई और धीरेंद्र सिंह को गिरफ्तार का जेल भेज दिया किन्तु ज्योहीं 24 घंटे में बेल की सूचना ग्रामीणों को मिली लोगों ने अपने घर दिए जलाए जिसे दिवाली का माहौल था.