अष्टयाम महायज्ञ के लिए 251कुँवारी कन्यायों ने कलश यात्रा में भाग 

0
178

पातेपुर से रंजीत कुमार की रिपोर्ट

अष्टयाम महायज्ञ के लिए 251कुँवारी कन्यायों ने कलश यात्रा में भाग

 

तीसीऔता थाना क्षेत्र के नारी कला गांव में ब्रह्म स्थान परिसर में आयोजित 24 घंटे का अष्टजाम महायज्ञ के लिए251 कुँवारी कन्याओं ने जुलूस के साथ कलश यात्रा में भाग लिया.अष्टजाम महायज्ञ हेतु महनार के हसनपुर घाट से गंगा का पवित्र जल टैंकर से मंगाया गया था.नारी कला के श्रीराम चौक हनुमान मंदिर परिसर से गंगा जल को आचार्य राघवेंद्र झा के मंत्रों चार से शुद्धिकरण के पश्चात कुँवारी कन्याओं ने पवित्र जल को अपने माथे पर कलश धारण कर यज्ञ स्थल की ओर रवाना हुआ.कलश यात्रा में भगवान श्री राम,लक्ष्मण माता सीता और हनुमान का रूप धारण कर कलश यात्रा की शोभा बढ़ा रहे थे.गाजे बाजे के साथ निकली कलश यात्रा में मुख्य यजमान श्याम सुन्दर झा,के अलावे मुखिया पति रामानंद पासवान,अमर नाथ झा,भाजपा नेता चंद्र मोहन झा,पूर्व उप मुखिया लाल बाबू झा,महेंद्र सहनीअनुरुद्ध झा,त्रिभुवन झा,सत्येंद्र झा,कुंदन झा,नरेश सिंह,नवनीत कुमार मृत्युंजय कुमार आदि ने कलश यात्रा में सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए कुँवारी कन्याओं को चलने के लिए सलाह देते रहे.कलश को ब्रह्म स्थान परिसर में स्थापित करने के बाद अष्टजाम यज्ञ प्रारम्भ हो गया.