लंबी लड़ाई को तैयार हो रही दुनिया, सर्दी में कोरोना वायरस फिर कर सकता है हमला

0
325

कोरोना वायरस से तबाही के बीच कई देश पाबंदियों में ढील दे रहे हैं। हालांकि विशेषज्ञों का कहना है कि यह वायरस सर्दी के महीनों में फिर लोगों को चपेट में ले सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन और यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेशन ने भी कहा है कि दुनिया को इससे कई वर्ष तक लड़ना होगा।
इसे देखते हुए चीन, ब्रिटेन, फ्रांस और अमेरिका समेत कई देशों ने कोरोना से लंबी लड़ाई की तैयारी शुरू कर दी है। विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि अगर हम फिर से घर या दफ्तर में पार्टियां करने लगे, घूमने जाने लगे या बाजार में भीड़ बढ़ाई तो वायरस को न्योता देंगे और इस बार यह ज्यादा भयावह होगा।

स्पेन सरकार ने चेतावनी दी है कि अगर आपातकाल व लॉकडाउन बढ़ाया नहीं गया तो देश में अव्यवस्था फैल सकती है। सरकार आपातकाल को एक और विस्तार की मंजूरी देने के लिए विपक्षी दलों पर दबाव बढ़ा रही है। लेकिन विपक्षी दलों ने अगले हफ्ते संसद में होने वाली वोटिंग में आपातकाल की अवधि बढ़ाए जाने वाले प्रस्ताव का विरोध करने का ऐलान किया है।
हालांकि, सरकार का कहना है कि अगर आपातकाल को नहीं बढ़ाया गया, तो इससे बड़े पैमाने पर गड़बड़ी हो सकती है। स्वास्थ्य मंत्री सल्वाडोर इल्ला ने कहा कि आपातकाल बेहद जरूरी था। सख्त लॉकडाउन के कारण ही स्पेन ने मार्च के मध्य में कोरोना वायरस संक्रमणों की संख्या में लगभग 35 फीसदी से 0.16 फीसदी तक की कमी लाने में कामयाबी हासिल की है।
ईरान में मस्जिदें फिर खुलीं
सोमवार को देश के उन हिस्सों में मस्जिदों को फिर से खोल दिया गया, जहां कोरोनो का जोखिम कम हुआ है। ईरान में अब तक रिकॉर्ड 80 हजार संक्रमितों को अस्पताल से छुट्टी दी गई है। संक्रमण में आई कमी को देखते हुए सोमवार को 132 कम जोखिम वाले शहरों में मस्जिदों को खोल दिया गया।
जापान में 31 मई तक बढ़ा आपातकाल
जापान सरकार ने कोविड-19 महामारी के कारण लगाए गए देशव्यापी आपातकाल को सोमवार को आधिकारिक तौर पर 31 मई तक और बढ़ाने के अपने फैसले की घोषणा की। जापान में सोमवार तक कोरोनो वायरस के मामलों की संख्या बढ़कर 14,877 हो गई, जिसमें 487 मौतें हुईं। प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी घोषणा की।जापान के ‘गोल्डेन वीक हॉलिडे’ के आखिरी दिन यानी 6 मई के बाद आपातकाल बढ़ाया जाएगा। विशेषज्ञों के एक सलाहकार पैनल द्वारा सुबह आपातकाल बढ़ाने को मंजूरी देने के बाद सरकार ने इस फैसले के बारे में संसद को सूचित किया। इकोनोमिक रिविटलाइजेशन मंत्री यसुतोशी निशिमुरा ने संसद को बताया कि नए पॉजिटिव मामलों की गिरावट की गति काफी तेज नहीं है हालांकि नए संक्रमणों की संख्या नीचे की ओर जा रही है।निशिमुरा ने कहा, हमें नए मामलों में और कमी देखने की जरूरत है। आपातकाल तब बढ़ाया गया है जब चिकित्सा प्रणाली पर दबाव आ गया है। आबे ने पहली बार 7 अप्रैल को टोक्यो और छह प्रान्तों के लिए एक महीने की आपातकाल लगाया था, 16 अप्रैल को पूरे देश में लागू कर दिया।

Input hindustan