कोरोना से संक्रमण की संख्या में वृद्धि को देखते हुए जिलाधिकारी डॉ० चंद्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में एक महत्वपूर्ण बैठक का किया गया आयोजन

0
104
  • बिहार में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में वृद्धि दृष्टिगोचर हो रही है । इसकी गंभीरता को देखते हुए मुजफ्फरपुर जिला प्रशासन पूरी मुस्तैदी के साथ कोरोना संक्रमण से बचाव एवं उसकी रोकथाम को लेकर अपने कार्यों को अंजाम दे रहा है।
  • राज्य में कोरोना से संक्रमण की संख्या में वृद्धि को देखते हुए जिलाधिकारी डॉ० चंद्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में एक महत्वपूर्ण बैठक आहूत की गई, जिसमें जिलास्तरीय सभी पदाधिकारी, सभी कोषांग के वरीय और नोडल पदाधिकारी, स्वास्थ्य विभाग की पूरी टीम और एसकेएमसीएच के अधीक्षक भी मौजूद थे। जिलाधिकारी ने उपस्थित सभी पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि *हालांकि अभी तक कोरोना के एक भी पॉजिटिव मरीज जिले में सामने नहीं आए हैं जो कि हमारे लिए राहत की बात हो सकती है ।परंतु कोरोना से संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के मद्देनजर हमें इसी जज्बे और इच्छाशक्ति के साथ अपने कार्यों को अंजाम देना होगा। अपने उत्तरदायित्वों के निर्वहन में निरंतरता बरतनी होगी ताकि यदि पॉजिटिव केस आता है तो उस स्थिति में सभी विभाग आपसी समन्वय के साथ आनेवाले हालात का मुकाबला करने में सक्षम हो सके*। उन्होंने निर्देश दिया कि सभी कोषांग हालात पर नजर रखते हुए अपने -अपने कार्यों का निर्वहन गंभीरतापूर्वक करें।बैठक में पॉजीटिव केस आने के उपरांत हालात पर प्रभावी नियंत्रण के मद्देनजर बनाई गई रणनीतियों को अमल में लाने के परिपेक्ष में विस्तृत विचार विमर्श किया गया ।लोगों की स्क्रीनिंग, उनका क्वॉरेंटाइन कराना और उनके आइसोलेशन के लिए जो रणनीतियां पूर्व में बनाई गई है उसे सौ फीसदी अमल में लाने को लेकर निर्देश दिए गए। जिलाधिकारी ने स्पष्ट रूप से कहा कि अभी तक “कोई पॉजिटिव केस का नहीं मिलना” का मतलब यह नहीं है कि हम शिथिल हो जाएं बल्कि आगे आने वाले दिनों को देखते हुए हमें और ऊर्जा के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करना होगा। बैठक में उप विकास आयुक्त सहित सभी जिला स्तरीय पदाधिकारी मौजूद थे।।