कोरोना वायरस महामारी में भी आंगनवाड़ी सेविका और लेडी सुपरवाइजर की मिलिभगत से पोषाहार का हो रहा गबन, जनता परेशान

0
86

रमेश प्रसाद सिंह की रिपोर्ट
वैशाली जिले अन्तर्गत बाल विकास परियोजना चेहराकलां द्वारा संचालित आंगनबाड़ी केंद्रों के सेविकाओं ने देश में कोरोनावायरस जैसे महामारी से जूझ रहा है। लाॅक डाउन लगने के बावजूद भी बस्ती सरसिकन पंचायत के वार्ड संख्या10,13 की सेविका मुख्यालय से गायब है। जबकि पोषक क्षेत्र में आने वाले प्रवासी की सूचना देने के लिए निर्धारित कंट्रोल केन्द्र चेहराकलां को निर्देशित है। इस महामारी में समाजसेवी द्वारा संकट की घड़ी में लोग मदद करने में जुटे हैं। केन्द्र संख्या 10,12,13 की गत 23 मार्च २० को पोषक क्षेत्र के लाभार्थियों के बीच पोषाहार की निकासी के बाद भी वितरण नहीं किया गया है और क्रय भाउचर कार्यालय को समर्पित कर दिया गया है। वार्ड संख्या 12 की सेविका खुद गलती स्वीकार किया। इस तरह के मामले अधिकांश आंगनबाड़ी केंद्र के सेविका व एल एस की मिलीभगत से गमन किया गया है। अब तक इस मामले को सीडीपीओ द्वारा गंभीरता से नहीं लिया गया है और न कोई कार्रवाई की गई है।